पाप को जब मौका मिलता है वह अपना ताकत दिखाता है , और हमें उस स्थान में ले जाना चाहता है जहाँ हम नही जाना चाहते । और जब पाप अपना कार्य हममे कर जाता है फिर हमें दोष भावना , हीनभावना से भरने की कोशिश करता है , परन्तु बाइबल ऐसा बताती है जहां पाप बहुत हुआ , वहां अनुग्रह उस से भी कहीं अधिक हुआ , कि हम अनुग्रह अर्थात प्रभु यीशु का लोहू जो हमारे पापो का एक ऐसा प्रायश्चित्त ठहराया गया , जो विश्वास करने से कार्यकारी होता है उस महान और सामर्थी लोहू के द्वारा हम वापस उस स्थान पर पहुंचाये जाते है जिस स्थान को परमेश्वर ने हमारे लिए नियुक्त कर के रखा है । इसलिए मेरे प्रियो हर बात में , हर क्षेत्र में अनुग्रह के अधीन हो जाओ कि आप आत्मिक , मानसिक , शारीरिक रूप से स्वास्थ्य रह सको और शैतान को कार्य करने का कोई अवसर प्राप्त न हो ।

प्रभु आप सभो से बहुत प्यार करता है और जब भी आपको उसके अनुग्रह की आवश्यकता हो , वह देगा क्योंकि वह अनुग्रह का दाता है , जब भी कोई गलती हो खुद को अनुग्रह के सिहंसन के समीप ले जाने से रोके नही वरना शैतान आप पर हावी हो सकता है । प्रभु आप सभो को आशीष दे ।

0 comments:

Post a Comment

Vist


Radio Online

onlineradios.in/

Call Us

Call Us

Listen in your favourite player

                                                         

Featured Post

Yeshu Masih ke Kahe Hue Vachan

Popular Posts

Vist Map